Skip to main content

अभिभावकों से जबरन स्कूल फीस नहीं वसूली जाए

🏆अभिभावकों से जबरन स्कूल फीस नहीं वसूली जाए
 


कोटा में कोरोना संक्रमण व लॉक डाउन के चलते स्कूल में पढ़ाई नहीं होने के बावजूद बच्चों की फीस जमा कराने का दबाव बनाने का अभिभावक विरोध कर रहे हैं।

कोटा. कोरोना संक्रमण व लॉक डाउन के चलते स्कूल में पढ़ाई नहीं होने के बावजूद बच्चों की फीस जमा कराने का दबाव बनाने का अभिभावक विरोध कर रहे हैं। सोमवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं सहित अभिभावकों ने सम्भागीय आयुक्त को ज्ञापन सौंपकर स्कूल फीस जबरन नहीं वसूलने पर पाबंदी लगाने की मांग की

कांग्रेस कार्यकर्ता दिनेश जोशी के नेतृत्व में एक दर्जन से ज्यादा अभिभावकों ने सम्भागीय आयुक्त कार्यालय के बाहर प्रदर्शन कर निजी स्कूल संचालकों की मनमानी पर रोक लगाने की मांग की। अभिभावकों ने सम्भागीय आयुक्त केसी मीणा को बताया कि कोरोना संक्रमण व लॉकडाउन के चलते काम धंधे ठप हैं, कई लोगों को नौकरियों से हाथ धोना पड़ा। अधिकांश लोगों का घर खर्च चलाना मुश्किल हो रहा है, ऐसे में स्कूल फीस कैसे जमा करा पाएंगे। अभिभावकों ने बताया कि छोटे बच्चे ऑनलाइन भी पढ़ाई नहीं कर सकते।

अधिकांश स्कूल फीस वसूली के लिए ऑनलाइन पढ़ाई के नाम पर स्कूल फीस वसूल रहे हैं। फीस जमा नहीं कराने पर कई स्कूलों में तो बच्चों के नाम तक काट दिए गए। दिनेश जोशी ने बताया कि निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ अगर प्रशासन ने शीघ्र कोई कदम नहीं उठाया तो उग्र आन्दोलन करना पड़ेगा। इस दौरान आरजू खान, राजेश शुक्ला, अशोक चतुर्वेदी, पंकज जोशी, ललित सोनी सहित कांग्रेस कार्यकर्ता व अभिभावक मौजूद रहे।

https://twitter.com/NewsKeval?s=09

*📔🏆 शिक्षा विभाग समाचार 🏆📔*
😊 Thanks for Visit.😊

Post a comment

0 Comments